राष्ट्रीय

Cyclone Tauktae: तौकते तूफान के कारण कई राज्यों में बारिश, इससे बचने के लिए क्या करें ….

चक्रवाती तूफान तौकते और मजबूत हो गया है. इस तूफान के कारण कई राज्यों के तटीय इलाकों में बारिश हो रही है. प्रधानमंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों को लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए हर संभव उपाय करने का निर्देश दिया है.

दक्षिण पूर्व और उससे सटे पूर्वी मध्य अरब सागर के ऊपर बना दबाव का क्षेत्र अब चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ में बदल गया है. अब केरल, गोवा, मुंबई के तटीय इलाकों में भारी बारिश शुरू हो गई है. तूफान तौकते गुजरात तट और केंद्र शासित प्रदेश दादरा-नगर हवेली की ओर बढ़ रहा है. चक्रवात के कारण महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में दोपहर से बारिश होने की आशंका है. इस दौरान हवा की गति लगभग 60 से 70 किमी प्रति घंटे रहने की आशंका है.

 आपके पास जो भी सही जानकारी हो उसे अन्य लोगों तक पहुंचाते रहें. 

 सरकार की ओर से जारी चेतावनियों को ध्यान से सुनिए. इससे किसी तरह की आपातकालीन स्थिति में आपको मदद मिल सकेगी.

 तूफान आने की स्थिति में जितना जल्दी संभव हो, समुद्री किनारे से दूर चले जाएं

 तूफान या चक्रवात आने की स्थिति में टीवी या रेडियो के जरिए खबरों और सरकार की ओर से जारी सुचनाओं को सुनते रहना चाहिए.

 अपने घर में भी जो सबसे सुरक्षित जगह हो, वहीं पर पनाह लेना चाहिए.

 अगर सरकार की ओर से खतरे को देखते हुए घर को खाली करने को कहा जाए, तो बिना झिझके खाली कर दें

 अगर घर में हैं, तो खिड़की-दरवाजों को कसकर बंद कर दीजिए और उनके पीछे कोई भारी चीज रख दीजिए.

 घर में फर्स्ट ऐड किट तैयार करके रख लेना चाहिए. 

 तूफान के दौरान बच्चों और बुजुर्गों की सेहत का ज्यादा खयाल रखें.

 अफवाहों और गलत खबरों पर बिल्कुल भरोसा न करें. किसी भी खबर पर जांच परख कर भरोसा करें.

 तूफान आने के वक्त घर में बिजली का मेन स्विच ऑफ कर देना चाहिए. रोशनी के लिए टॉर्च, मोमबत्ती और माचिस अपने पास रखें औऱ इसका इस्तेमाल करें.

 अगर घर में पाइप लाइन के जरिए गैस आती हो तो उसकी मेन सप्लाई भी बंद कर देना चाहिए.

 पीने के पानी का पर्याप्त इंतजाम कर लेना चाहिए. खाने की ऐसी चीजें भी स्टोर कर लेनी चाहिए जिसे पकाना न पड़े.

 जब तक सरकार घर लौटने को न कहे तब तक घर न लौटें. 

 अपने लोगों से संपर्क में रहने के लिए अपने मोबाइल चार्ज करके रखें.

 अगर तुफान के दौरान घर के बाहर फंस गए हैं तो बचने के लिए किसी पेड़ का सहारा बिल्कुल न लें.

 तुफान के दौरान जितनी जल्दी हो सके किसी कंक्रीट के मकान के नीचे आने की कोशिश करें.

 अगर आप मछली पकड़ने का काम करते हैं तो चक्रवात के दौरान समंदर में न जाएं.

 अगर तुफान के दौरान ड्राईविंग कर रहे हैं तो कार के खिड़की-दरवाजे बंद कर लें और जल्द से जल्द कार को किसी मकान के नीचे पार्क करने की कोशिश करें. कभी भी कार को पेड़ के नीचे न रोकें.

ऐसे में अगर तूफान या चक्रवात के दौरान आप इन सावधानियों को रखते हैं तो आपको नुकसान होने की गुंजाइश बहुत ही कम हो जाती है. तूफान के दौरान बिल्कुल घबराना नहीं चाहिए. इस दौरान सतर्क रहें और दूसरे को सतर्क करते रहें.

Silk Tv

Silk TV पर आप बिहार सहित अंगप्रदेश की सभी खबरें सबसे पहले देख सकते हैं !

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button