Home स्वास्थ्य सेहत के लिए साईकिल चलाएं : आस्था राइडर्स

सेहत के लिए साईकिल चलाएं : आस्था राइडर्स

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) :कोरोना महामारी के दौरान बहुत से लोगों को फेफड़ों और ऑक्सीजन की कमी की समस्या से जूझना पड़ रहा है। वहीं अधिकांश लोगों को यह पता नहीं है कि नियमित साइकिल चलाने से फेफड़े तो मजबूत होते ही हैं। साथ में अन्य रोगों से भी निजात मिलती है। इसी को देखते हुए भागलपुर में साइकिलिंग ग्रुप, आस्था राइडर्स ने “सेहत के लिए साईकिल चलाएं” मुहिम की शुरुआत की है। पिछले एक माह से ग्रुप से जुड़े चिकित्सक, बच्चे, महिला और समाजसेवी प्रतिदिन सुबह- सुबह करीब एक से डेढ़ घंटा शहर की सड़कों पर साईकिल करते नजर आते हैं। इधर लॉकडॉउन और कोरोना काल में लोगों को डिप्रेशन से बाहर निकालने और सेहत के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए साइकिलिंग ग्रुप आस्था राइडर्स की टीम का रविवार को सराय में जय प्रकाश यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो. फारूक अली, ऊर्दू गर्ल्स हाई स्कूल असानंदपुर की एक्स प्रिंसिपल सबीहा फैज और सफाली युवा क्लब के सदस्यों ने जोरदार स्वागत किया। इस दौरान आस्था राइड्स की संयोजक डॉ. वर्षा सिंहा और डॉ. ओबैद अली को वीसी प्रो. फारूक अली ने अंगवस्त्र और बुके देकर सम्मानित किया। मौके पर डॉ. वर्षा सिंहा ने बताया कि साइकिल चलाने वाले ज्यादातर व्यक्तियों को ऑक्सीजन संबंधी समस्या नहीं आती है, और लोग फिट रहते हैं। डॉ. ओबैद अली ने कहा कि साइकिलिंग करने से पैर की मांस पेशियां मजबूत होती हैं। घुटनों के दर्द की समस्या नहीं रहती है और इम्युनिटी भी बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में ज्यादातर लोग इसीलिए सुरक्षित हैं क्योंकि वह मेहनत करते हैं। समाजसेवी सैयद जीजाह हुसैन की माने तो आजकल लोगों को साइकिल चलाने में बड़ी शर्मिंदगी महसूस होती है। लेकिन यह समझना भी अत्यंत जरूरी है कि साइकिलिंग उनकी सेहत के लिए कितनी फायदेमंद है। उन्होंने कहा कि जब से वे साइकिलिंग कर रहे हैं तब से उनका डायबिटीज कंट्रोल में है। वहीं कुलपति प्रो. फारूक अली ने जानकारी दी कि पेट की चर्बी कम करने के लिए लंबी राइड्स लेना अच्छा होता है। कम भीड़-भाड़ वाली सड़क पर राइड के लिए जाएं, ताकि आप लंबे समय तक साइकिलिंग कर सकें।इस दौरान कुलपति ने बिहार सरकार की ओर लड़कियों को साईकिल दिए जाने के प्रभाव और विदेश में महिलाओं के बीच साइकिल चलाने को लेकर बढ़ती रुचि की चर्चा भी विस्तार से की। वहीं शिक्षिका सबीहा फैज ने सबों से साईकिल चलाने और ईंधन बचाने की अपील की।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments