Home भागलपुर सिंडिकेट में 6 अरब 13 करोड़ घाटे का बजट हुआ पास, संविदा...

सिंडिकेट में 6 अरब 13 करोड़ घाटे का बजट हुआ पास, संविदा कर्मियों के सेवा विस्तार पर लगी मुहर

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार): तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय लालबाग परिसर स्थित कुलपति के आवासीय कार्यालय में रविवार को सिंडिकेट की बैठक हुई। बैठक की अध्यक्षता प्रभारी कुलपति प्रो. हनुमान प्रसाद पाण्डेय ने की।

प्रो. हनुमान प्रसाद पांडेय,कुलपति

सिंडिकेट की बैठक में वित्तीय वर्ष 2022-23 के 6 अरब 13 करोड़ के अनुमानित घाटे का बजट पेश किया गया। जिसे सदस्यों ने सदन में पास कर दिया, अब यह बजट सीनेट में रखा जाएगा और सीनेट में पास होने के बाद इसे राज्य सरकार को भेजा जाएगा।

वहीं सिंडिकेट ने 125 संविदा कर्मियों के सेवा विस्तार पर मुहर लगा दी। साथ ही संविदा कर्मियों को दिसम्बर माह से 20 प्रतिशत वेतन बढ़ोतरी के भुगतान पर सहमति जताई। बैठक में ऑटोमेशन, कॉपी खरीद -बिक्री, सार्टिफिकेट, पेंशन, एरियर भुगतान समेत कई मुद्दे छाए रहे। इस दौरान सदस्यों ने वित्त से जुड़े मामले को सीनेट में रखने की बात कही।

सिंडिकेट में वित्त कमेटी, एफीलिएशन कमेटी और एकेडमिक काउंसिल की बैठक में लिए गए निर्णय को भी रखा गया। वहीं सदन में एक सदस्य ने वित्त कमेटी के बैठक की सूचना ससमय नहीं मिलने पर आपत्ति जताई। जिसपर एमएलसी डॉ. संजीव कुमार सिंह ने सभी कमेटियों का अलग-अलग व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर सदस्यों को सूचना देने का सुझाव दिया।

सिंडिकेट की बैठक में कुलपति प्रो. हनुमान प्रसाद पांडेय ने आउटसोर्सिंग के माध्यम से सुरक्षा गार्ड रखने पर सदस्यों से स्वीकृति देने की बात कही। इस दौरान कुलपति ने तर्क दिया कि दरबान नहीं रहने से विश्वविद्यालय की ईंट तक चोरी हो रही है। जिसपर सिंडिकेट सदस्यों ने कहा कि इस प्रस्ताव को आगामी सीनेट की बैठक में रखकर सहमति ली जाए। गौरतलब हो कि इसके पूर्व 25 नवंबर को कुलपति के आवासीय कार्यालय में सिंडिकेट की बैठक हुई थी। जिसका विरोध छात्र राजद ने किया था।

इधर अभिषद की बैठक के दौरान विधि व्यवस्था को लेकर कुलपति आवास के बाहर पुलिस बल की तैनाती की गई थी। बैठक में प्रति कुलपति प्रो. रमेश कुमार, डीएसडब्ल्यू प्रो. रामप्रवेश सिंह, रजिस्ट्रार डॉ. निरंजन प्रसाद यादव, प्रॉक्टर प्रो. रतन मंडल, परीक्षा नियंत्रक प्रो. अरुण कुमार सिंह, सिंडिकेट सदस्य कामिनी दुबे, हरपाल कौर डॉ. ललित नारायण मंडल समेत कई सदस्य और अधिकारी उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments