Home अपराध राष्ट्रीय लोक अदालत में 22 बेंचों पर 2 हज़ार से अधिक वादों...

राष्ट्रीय लोक अदालत में 22 बेंचों पर 2 हज़ार से अधिक वादों का हुआ ऑन द स्पॉट निष्पादन, 12 करोड़ 56 लाख की राशि पर हुआ समझौता….

रिपोर्ट – रवि शंकर सिन्हा

सिल्क टीवी भागलपुर (बिहार) : राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकार एवं बिहार राज्य विधिक सेवा प्राधिकार के निर्देश पर शनिवार को देशभर में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। वहीं इसको लेकर भागलपुर व्यवहार न्यायालय परिसर में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत का उद्घाटन जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकार शिव गोपाल मिश्र, जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन, प्रधान न्यायाधीश हेमंत कुमार त्रिपाठी, सिटी एसपी स्वर्ण प्रभात और प्राधिकार की सचिव रुम्पा कुमारी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

इस दौरान उद्घाटन सत्र को सम्बोधित करते हुए जिला जज शिव गोपाल मिश्र ने कहा कि कहा कि नालसा के निर्देश पर देशभर में राष्ट्रिय लोक अदालत का आयोजन किया गया, जिसका मुख्य उद्देश्य लम्बे समय से लंबित पड़े वादों का निष्पादन आपसी सहमति और मेलजोल से कराया जाना है। जिला जज ने कहा कि जितने भी सुलहनीय मामले है उसका निष्पादन राष्ट्रीय लोक अदालत में न्यायिक पदाधिकारी, अधिवक्ता, और पक्षकार की मौजूदगी में ऑन द स्पॉट किया जाता है, जिससे कोर्ट कचहरी और लंबित वादों से लोगो को छुटकारा मिल सके।

वहीं डीएम सुब्रत कुमार सेन ने जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सभी पदाधिकारियों के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि लोक अदालत के आयोजन का लंबित वादों से सम्बंधित लोगों को बढ़चढ़कर लाभ लेना चाहिए, जिससे आपसी सुलह और सूझबूझ से न्यायिक पदाधिकारियों की उपस्थिति में मामलों का निष्पादन होता है। उद्घाटन सत्र को कई न्यायिक पदाधिकारियों और अतिथियों ने सम्बोधित किया, जबकि जिला विधिक सेवा प्राधिकार की सचिव रुम्पा कुमारी ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए सभी पक्षकारों से और लोगों से राष्ट्रीय लोक अदालत का लाभ लेने की बात कही।

वहीं इसके बाद कोर्ट परिसर में बनाए गए 15 बेंच पर मामलों की सुनवाई शुरू हुई। जहां विभिन्न जगहों से आये लोगों ने अपने अपने वादों का निबटारा आपसी मेलजोल से किया। बता दें कि नवगछिया कोर्ट परिसर में बनाए गए 5 बेंच और कहलगांव न्यायालय परिसर में बनाए गए 2 बेंचों पर भी राष्ट्रीय लोक अदालत की सुनवाई हुई।

वहीं राष्ट्रीय लोक अदालत को लेकर सचिव रुम्पा कुमारी ने बताया कि जिले में बनाए गए 22 बेंचों पर हुई सुनवाई में कुल 2 हज़ार 6 वादों का निष्पादन हुआ, जिसमें सहमति के आधार पर 12 करोड़ 56 लाख 42 हज़ार 1 रूपये की राशि पर समझौता हुआ। उन्होंने कहा की कोविड की सावधानी को ध्यान में रखते हुए आयोजन में सारी व्यवस्था भी की गई थी। साथ ही कहा कि इस दौरान पारिवारिक विवाद, बीमा, बैंक, बीएसएनएल, बिजली विभाग और लेबर डिस्प्यूट समेत कई मामलों का निबटारा हुआ। मौके पर रमन कर्ण, अमित कुमार, तुलिका गुप्ता समेत काफी संख्या में न्यायिक पदाधिकारी, अधिवक्ता, पक्षकार मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments