Home भागलपुर राष्ट्रहित में नहीं है बैंकों का निजीकरण

राष्ट्रहित में नहीं है बैंकों का निजीकरण

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : यूनाईटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन के आह्वान पर देशभर में निजीकरण के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। इसी कड़ी में यूएफबीयू के बैनर तले बुधवार को भागलपुर क्षेत्रीय कार्यालय के सामने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया।

इस दौरान संगठन से जुड़े पदाधिकारी और कर्मियों ने निजीकरण के विरोध में केन्द्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। साथ ही सरकार की नीतियों को गलत बताया। वहीं बेफी के संगठन सचिव बालकृष्ण पोद्दार ने बताया कि बैंक यूनियन केंद्र सरकार द्वारा बैकों के निजीकरण के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि निजीकरण के विरोध में यूनियन ने आगामी 16 और 17 दिसंबर को राष्ट्रव्यापी हड़ताल की घोषणा की है।

जबकि संघ के नेता कुंदन प्रताप ने बताया कि केंद्र सरकार की ओर से संसद के शीतकालीन सत्र में लाये जा रहे बैंकिग अधिनियम संशोधन विधेयक 2021 के खिलाफ हमलोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं प्रदर्शन कर रहे बैंक कर्मियों का कहना था कि बैंकों का निजीकरण राष्ट्रहित में नहीं है। मौके पर जेपी झा, अभिषेक पांडे सहित कई बैंक कर्मचारी उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments