Home बिहार मानवता ही इंसान का सबसे बड़ा धर्म : सैयद अता हुसाम

मानवता ही इंसान का सबसे बड़ा धर्म : सैयद अता हुसाम

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : भागलपुर में शीतलहर के बढ़ते प्रकोप के बीच समाजसेवियों ने जरूरतमंदों की मदद के लिए हाथ बढ़ाए हैं। मौलानाचक से संचालित एजाज -ए- सैयदना फाउंडेशन की ओर से बीते कई दिनों से शहर के विभिन्न स्थानों पर गरीबों के बीच कंबल बांटा जा रहा है।

सोमवार को संस्था के सदस्यों ने इमामपुर पंचायत के वार्ड नंबर 7 में शिविर लगाकर जरूरतमंदों के बीच कंबल वितरण किया। इस दौरान दाऊदचक, सदरूद्दीनचक, मौलानाचक, रेशालबाग, अलीनगर और पंखाटोली के असहाय, गरीब, दिव्यांग, विधवा एवं लाचार लोगों के बीच कंबल बांटा गया।

सैयद शाह अहमद अता हुसाम कादरी,संस्थापक

वहीं एजाज -ए- सैयदना फाउंडेशन के मौलाना अहमद रजा अजीजी और मौलाना हफीजुर रहमान ने बताया कि फाउंडेशन के संस्थापक हजरत सैयद शाह अहमद अता हुसाम कादरी की सरपरस्ती में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में शिविर आयोजित कर गरीबों की सहायता की जाती हैं। उन्होंने बताया कि पिछ्ले कई साल से यह संस्था लोगों की भलाई के लिए कार्य कर रही है।

इधर एजाज -ए- सैयदना फाउंडेशन के संस्थापक सह पीर -ए- तरीकत हजरत सैयद शाह अहमद अता हुसाम कादरी ने बताया कि मानवता ही इंसान का सबसे बड़ा धर्म है। उन्होंने कहा कि ठंड में गरीबों की सेवा सबसे बड़ी नेकी है। वहीं कपकपाती ठंड में कंबल पाकर लोगों के चेहरे पर मुस्कान आ गई। मौके पर उमर आजम, कासिफ आलम, शाहिद समेत संस्था से जुड़े कई सदस्य मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments