Home अपराध भूमिहीन महादलित परिवारों पर जमीन पर कब्जा कर घर बनाने का जमीन...

भूमिहीन महादलित परिवारों पर जमीन पर कब्जा कर घर बनाने का जमीन मालिक ने लगाया आरोप, प्राथमिकी दर्ज, सीओ ने कार्रवाई का दिया भरोसा….

रिपोर्ट – अंजनी कुमार कश्यप

सिल्क टीवी नवगछिया/ भागलपुर : नवगछिया प्रखंड के ढोलबज्जा में भू-दान की जमीन बताकर वहां के दर्जनों महादलित परिवारों द्वारा बीते शुक्रवार से ही ने करीब 80 डिसमिल जमीन पर कब्जा कर घर बनाने का आरोप जमीन मालिक ने लगाया है। इसके विरोध में जमीन मालिक विन्देश्वरी प्रसाद जायसवाल के पुत्र राजेश कुमार ने अपने दर्जनों समर्थकों के साथ सोमवार को बाजार बंद कर थाना गेट के सामने धरना प्रदर्शन किया। मामले को लेकर बताया जा रहा है कि जमीन मालिक द्वारा यह धरना प्रदर्शन उनके जमीन पर कब्जा धारियों एवं नवगछिया सीओ के खिलाफ दिया गया।

वहीं धरना बैठे पीड़ित पक्ष के राजेश कुमार ने बताया कि जिस जमीन पर महादलित परिवारों की और से कब्जा कर घर बनाया जा रहा है, वह जमीन उसका खतियानी एवं रैयती जमीन है,और इसका रसीद भी अप-टू-डेट है। राजेश ने कहा कि बावजूद इसके महादलित परिवारों ने उसकी 80 डिसमिल जमीन को भूदानी बता उस पर अवैध रूप से कब्जा कर घर बनान शुरू कर दिया हैं। जबकि नवगछिया सीओ पर भी बिना देखे करीब 41 महादलित परिवारों के दखल कब्जा की पर्चा रसीद देने का आरोप जमीन मालिक ने लगाया है।

वहीं इसको लेकर घर बना रहे दर्जनों महादलित परिवारों के लोगों ने बताया कि उन्हें पर्चा और रसीद मिला है। साथ ही आरोपी पक्ष के लोगों का कहना है कि करीब दो एकड़ अठारह डिसमिल की यह जमीन  भू-दान की है, और भूमिहीन होने के कारण वे लोग पिछले 20 वर्षों से अंचल कार्यालय का चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन उन लोगों को बसाने के लिए किसी पदाधिकारी और जनप्रतिनिधियों ने ध्यान नहीं दिया। जिसके कारण भू-दान की जमीन जान कर यहां भूमिहीन महादलित परिवारों ने चढ़ाई की है।

वहीं धरना प्रदर्शन की सूचना मिलते ही सीओ विश्वास आनंद और नवगछिया इंस्पेक्टर मार्कंडेय सिंह ढोलबज्जा पहुंचे, और धरना पर बैठे लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन लोगों ने कब्जाधारी महादलित परिवारों को हटाने और गलत तरीके से पर्चा रसीद देने वाले अंचल कर्मियों पर कार्रवाई की मांग की। बता दें कि राजेश कुमार ने 41 महादलित परिवारों के खिलाफ ढोलबज्जा थाने में लिखित आवेदन देकर प्राथमिकी दर्ज कराई है। जबकि सीओ द्वारा दोषियों पर कार्रवाई का भरोसा देने के बाद धरना समाप्त कर दिया गया। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments