Home भागलपुर भारतीय संविधान देता है समानता और स्वतंत्रता का अधिरकार : डॉ. संजय...

भारतीय संविधान देता है समानता और स्वतंत्रता का अधिरकार : डॉ. संजय चौधरी

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : संविधान और नशामुक्ति दिवस पर भागलपुर टीएनबी कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई की ओर से शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रधानाचार्य डॉ. संजय कुमार चौधरी ने की। इस अवसर पर डॉ. संजय कुमार चौधरी ने स्वयंसेवकों को संविधान दिवस की बधाई देते हुए, संविधान के नियमों और नीतियों का पालन करने की बात कही।

साथ ही बताया कि हमारा संविधान समानता और स्वतंत्रता का अधिरकार देता है। कार्यक्रम में महाविद्यालय शिक्षक संघ के अध्यक्ष डॉ. डीएन राय, टीएमबीयू राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डॉ. अनिरुद्ध कुमार, रिज़नल सेंटर के निदेशक प्रो. सी. पी. सिंह, वरीय शिक्षक डॉ. मनोज कुमार, डॉ. मुश्फिक आलम, डॉ. सुमन कुमार, डॉ. स्वेता पाठक, डॉ. रंजन, डॉ. अखिलेश, डॉ. ऋतु समेत कई शिक्षको ने बारी बारी से संविधान की महत्ता और नशामुक्ति की आवश्यकता को बतलाया।

वहीं भूस्टा अध्यक्ष डॉ. डीएन राय ने संविधान के निर्माण से संबंधित ऐतिहासिक पक्ष को बताया। एनएसएस समन्वयक डॉ. अनिरुद्ध कुमार ने महाविद्यालय को कार्यक्रम के आयोजन करने की बधाई देते हुए स्वयंसेवकों को संविधान निर्माण से संबंधित जानकारीदी। कहा कि संविधान कानून की दृष्टि से सबसे पवित्र ग्रन्थ है और हमें इसका आदर और सम्मान करना चाहिए l उन्होंने सरकार द्वारा चलाए जा रहे नशा मुक्ति आंदोलन की जानकारी दी और लोगों से अपील की कि आप न तो खुद नशा करें और न दूसरों को ऐसा करने दें।

डॉ. मुश्फिक आलम ने छात्रों को संविधान की रक्षा करने के लिए प्रेरित करते हुए कहा की हर भारतीय को संविधान के मान पर आंच नहीं आने देने का प्रयास करना चाहिए। कार्यक्रम में उपस्थित राजनीति विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ. मनोज कुमार ने छात्रों को संविधान निर्माण से जुड़ी कई रोचक जानकारियां दी और नशा मुक्ति के लिए अपने आस पास के समाज को जागरूक करने के लिए प्रयास करने को कहा। एनएसएस कार्यक्रम पदाधिकारी और मनोविज्ञान विभाग की शिक्षिका डॉ. स्वेता पाठक ने स्वयंसेवकों को संविधान दिवस की बधाई देते हुए उन्हें किसी भी प्रकार के नशा से दूर रहने की सलाह दी.। जबकि अर्थशास्त्र विभाग की डॉ. ऋतु ने छात्रों को नशा से सदैव दूरी बनाए रखने की सलाह दी।

भूगोल विभाग के शिक्षक डॉ. अखिलेश ने छात्रों को गांधी जीवन के आदर्श को बताते हुए नशा से दूर रहने की सलाह दी। डॉ. रंजन ने छात्रों को संविधान के महत्व को बताते हुए कहा सभी को एक बार अवश्य संविधान को पढना चाहिए। कार्यक्रम में उपस्थित शिक्षकों और स्वयंसेवकों ने एक साथ मिलकर संविधान की सुरक्षा और संप्रभुता बनाए रखने की शपथ ली और उसके बाद स्वयंसेवकों ने डॉ. सुमन कुमार के नेतृत्व में रैली बनाकर नशामुक्त बिहार बनाए रखने की शपथ ली गई। कार्यक्रम में उपस्थित सभी स्वयंसेवकों ने अपने आस पास नशा मुक्त समाज बनाए रखने की प्रयास करने की शपथ ली। कार्यक्रम का संचालन डॉ. सुमन कुमार ने किया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments