Home खेल भागलपुर में अंतरराष्ट्रीय इंडोर मल्टीपर्पस स्टेडियम बनाने की तैयारी शुरू, कई खेलों...

भागलपुर में अंतरराष्ट्रीय इंडोर मल्टीपर्पस स्टेडियम बनाने की तैयारी शुरू, कई खेलों और खिलाड़ियों को मिलेगा बढ़ावा…..

रिपोर्ट – रवि शंकर सिन्हा

सिल्क टीवी भागलपुर (बिहार) :केन्द्र और राज्य सरकार की ओर से देश में खेलकूद की गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए दावे तो खूब किये जाते रहे है, लेकिन वादे और दावे करने वाली सभी सरकारें योजना बनाकर खेल और खिलाडियों का विकास करने की बात करने के बाद उसे जमीनी स्तर पर पूरा नहीं कर पाती है। जिसका खामियाजा खेलकूद और खिलाड़ियों के साथ युवाओं में विकसित हो रही प्रतिभा पर भी पड़ता है।

बिहार के भागलपुर जिला जिसे राजधानी पटना के बाद राज्य का महत्वपूर्ण शहर माना जाता है, और केन्द्र की स्मार्ट सिटी योजना में शामिल होने वाला भागलपुर बिहार का पहला शहर भी है। लेकिन किसी भी बड़े स्तर पर आयोजन और खिलाडियों की प्रैक्टिस के लिए अबतक यहां कोई भी इंडोर स्टेडियम नहीं है। हालांकि इसको देखते हुए शहर के कुछ बुद्धिजीवियों और खेल प्रेमियों ने भागलपुर में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के आयोजन के लिए अब निजी प्रयासों से इंडोर गेम मल्टीपर्पस स्टेडियम बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। दरअसल शहरी क्षेत्र में जमीन के अभाव में मार्शल आर्ट्स एकेडमी ऑफ़ अंग की देखरेख में यह इंडोर स्टेडियम सजौर के झिकटिया गांव में बनाया जाएगा, जिसके लिए शाहकुंड प्रखंड अंतर्गत सजौर झिकटिया निवासी और मार्शल आर्ट्स एकेडमी अंग के संयोजक सह उपाध्यक्ष डॉ मुकेश कुमार सिन्हा ने अपने स्तर से जमीन मुहैया कराया है।

वहीं इसको लेकर एकेडमी की ओर से जमीन की मापी के साथ ही भूमि पूजन सह शिलान्याश की भी तैयारी शुरू कर दी गई है। जिसमें बिहार सरकार के खेल मंत्री के साथ भाजपा के कई बड़े पदाधिकारी और खेल से जुड़े शहर के जाने माने लोग भी हिस्सा लेंगे। वहीं इसको लेकर देश के सबसे चर्चित विश्वविद्यालय में अपनी सेवा दे चुके डॉ मुकेश कुमार सिन्हा ने कहा कि झिकटिया गांव शिक्षा और खेलकूद में काफी पिछड़ा है और भागलपुर में इंडोर स्टेडियम नहीं होने से खिलाडियों को ना तो सही प्रैक्टिस मिल पति है और ना ही राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बड़ा आयोजन हो पाता है। उन्होंने कहा की इसी को ध्यान में रखकर यह पहल की गई है, जिसमे सरकार के साथ खेल गतिविधियों से जुड़े लोगों का भी सहयोग अपेक्षित है। डॉ मुकेश ने कहा कि इस स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय स्तर की सभी सुविधा मौजूद रहेंगी, जिससे भागलपुर के साथ दूसरी जगहों के भी खिलाडी जुड़ सके।

इधर मार्शल आर्ट्स एकेडमी ऑफ़ अंग के सचिव सह भागलपुर जिला वूशु संघ के महासचिव राजेश कुमार साह ने कहा कि सुविधाओं के अभाव में भागलपुर में कई खिलाडी अपनी क्षमता का प्रदर्शन नहीं पाते हैं, लेकिन इसके बावजूद भागलपुर के कई खिलाडी राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर मैडल जीत रहे है। उन्होंने कहा कि वूशु, तलवारबाज़ी, मुएथाई, किकबॉक्सिंग, थांग टा, कलरिपयट्टु समेत कई तरह के इंडोर गेम का आयोजन इस स्टेडियम में किया सकता है, जबकि खिलाडियों और गेस्ट के रहने के लिए भी पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments