Home भागलपुर भागलपुर ग्लोकल हॉस्पिटल मामले में सिटी एएसपी पूरन झा दल बल के...

भागलपुर ग्लोकल हॉस्पिटल मामले में सिटी एएसपी पूरन झा दल बल के साथ देर शाम ग्लोकल अस्पताल पहुंचे

भागलपुर ग्लोकल हॉस्पिटल मामले में सिटी एएसपी पूरन झा दल बल के साथ देर शाम ग्लोकल अस्पताल पहुंचे।और पीड़ित महिला रुचि द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच की। साथ ही कर्मियों से  पूछताछ कर आगे की जांच में जुट गई है।बता दें कि मधुबनी निवासी रोशन व उनकी मां कुछ दिन पूर्व कोरोना से संक्रमित हुए थे।  उनकी पत्नी रुचि ने ग्लोकल अस्पताल में उसे भर्ती कराया था।  जहां उसका इलाज चल रहा था लेकिन इलाज के नाम पर अस्पताल में गिद्ध जैसी हरकत रुचि व उसके पति के साथ की गई। रूचि ने मीडिया को बयान देते हुए कहा कि ग्लोकल अस्पताल के कंपाउंडर ज्योति ने उसके कमर पर हाथ रखा और उसका दुपट्टा खींचा , साथ ही आईसीयू में भर्ती उसके पति और उसकी मां को काफी तड़पाया । रुचि ने कहा कि अस्पताल कर्मियों द्वारा आंखें निकालने  की भी धमकी दी गई। अस्पताल में अपने पति की बिगड़ती हालत देख रुचि ने उसे मायागंज अस्पताल ले गयी ।  जहां डॉक्टरों ने उनको देखा तक नहीं।  रुचि ने कहा कि आईसीयू में अपने पति को भर्ती कराया गंदगी में पड़े रहे लेकिन कोई डॉक्टर नहीं आए।  रुचि ने मायागंज अस्पताल के डॉक्टरों पर कई गंभीर आरोप भी लगाए हैं।  यहां से भी थक हार रुचि अपने पति और मां को राजेश्वर अस्पताल पटना ले गई।वहां भी इलाज नहीं मिलने के कारण रुचि के पति रोशन ने जिंदगी की  जंग  हार गए ।  रुचि के दिए गए बयान के बाद यह खबर आग की लपटों की तरह पूरे देश में फैल गई। फिलहाल खबरों को देख एएसपी ग्लोकल अस्पताल पहुंचे थे।  इस घटना की हर और निंदा हो रही है।  रुचि के बयान से भागलपुर समेत पूरे बिहार के लोग आक्रोशित है।   बहरहाल अब देखना यह है की अगर महिला के आरोप सिद्ध हुए तो कर्मियों पर कार्रवाई होगी या फिर यहां भी खानापूर्ति होकर रह जाएगी। वही एसएसपी निताशा गुड़िया ने बताया की ग्लोकल हॉस्पिटल से सम्बंधित मामले की जाँच के लिए तीन सदस्यीय टीम का गठन किया गया हैं उन्होंने कहा की पीड़ित महिला से संपर्क कर पटना में लिखित शिकायत देने को कहा कहा गया है | एसएसपी ने  बताया  का आवेदन मिलते ही  विधि सम्मत कार्रवाई  की जाएगी | इधर ग्लोकल हॉस्पिटल के कुकृत्य कारनामे को लेकर कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजित शर्मा ने कड़ी प्रतिक्रिया ब्यक्त की है अपने बयान में अजित शर्मा ने कहा की पुरे बिहार में कोरोना इलाज के नाम पर लूट मची है | विधायक ने कहा की सरकार को ऐसे अस्पतालों का लाइसेंस रद्द  करवाई करनी चाहिए |

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments