Home धर्म भगवान सूर्य को अर्घ्‍य देने के साथ लोक आस्था का महापर्व छठ...

भगवान सूर्य को अर्घ्‍य देने के साथ लोक आस्था का महापर्व छठ संपन्‍न, गंगा घाटों पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : बिहार में गंगा सहित अन्य नदियों के किनारे, तालाबों और जलाशयों पर आस्‍था का जन-सैलाब उमड़ता दिखा। गुरूवार को सूर्योदय होते ही छठ व्रतियों ने उदयीमान सूर्य को अर्घ्‍य दिया। इसके पूर्व व्रतियों ने बुधवार की शाम अस्ताचलगामी सूर्य को पहला अर्घ्य दिया था।

छठ पूजा के लिए सूबे में सभी घाटों पर प्रशासन और स्‍थानीय पूजा समितियों की ओर से व्‍यापक इंतजाम किए गए थे। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सरकारी आवास पर भी छठ पूजा का आयोजन किया गया। इस दौरान सीएम ने सभी को लोक आस्था के महापर्व छठ की शुभकामनाएं दी।

इधर भागलपुर में अहले सुबह से ही व्रतियों और श्रद्धालुओं की भीड़ गंगा घाटों पर जुटनी शुरू हो गई और लोग छठी मैया की आराधना करने में लीन दिखे।बरारी पुल घाट और सीढ़ी घाट के साथ मुसहरी घाट, मानिक सरकार घाट, बूढ़ानाथ घाट समेत तमाम गंगा घाटों पर लोग पहुंचे और उगते सूर्य को अर्घ्य दिया।

इसको लेकर जिला और पुलिस प्रशासन की ओर से श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा का भी व्यापक इंतजाम किया गया था। शहर के विभिन्न गंगा घाटों पर एसडीआरएफ, जिला पुलिस बल और सैप जवानों की तैनाती की गई थी। वहीं बात अगर आस्था की करें तो कई छठ व्रती सस्तंग दंडवत देते हुए अपने घरों से छठ घाट पहुची और पवित्र गंगा में खड़े होकर भगवान सूर्य की आराधना की।

शहर में जगह जगह पूरे उत्साह के साथ छठ पर्व मनाया गया। साथ ही घाट परिसर में लोगों ने मेला का आनंद लिया। भागलपुर के गंगा घाट पर बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन, कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजीत शर्मा, मेयर सीमा साहा समेत कई राजनीतिक दल के नेता और जनप्रतिनिधि जायजा लेते नजर आए।

वहीं छठ व्रतीयों और श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए घाटों पर जिला प्रशासन एवं पूजा समिति की ओर से स्टाल लगाया गया था। कई जगहों पर कृत्रिम घाट का निर्माण कर उगते हुए सूर्य को अर्घ्य दिया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments