Home भागलपुर प्रभारी कुलपति को हटाने की मांग को लेकर एबीवीपी ने निकाला आक्रोश...

प्रभारी कुलपति को हटाने की मांग को लेकर एबीवीपी ने निकाला आक्रोश मार्च, कहा राजभवन के खिलाफ करेंगे आंदोलन….

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति प्रो. हनुमान प्रसाद पांडेय की नियुक्ति का विरोध जारी है। गुरुवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने टीएनबी कॉलेज से आक्रोश मार्च निकालकर विरोध प्रदर्शन किया।

छात्रों ने प्रशासनिक भवन पहुंचकर प्रभारी कुलपति की नियुक्ति को लेकर जमकर नारेबाजी किया। इस दौरान छात्र नेताओं ने राजभवन के अधिकारियों पर भी कई गंभीर आरोप लगाए। वहीं विश्वविद्यालय की शैक्षणिक व्यवस्था और भ्रष्टाचार को लेकर अभाविप के विश्वविद्यालय संयोजक संजय झा ने कहा कि यह विश्वविद्यालय अब भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है। प्रभारी कुलपति विश्वविद्यालय से गायब रहते हैं।

जिस कारण विश्वविद्यालय का सारा काम ठप हो गया है। उन्होंने बताया कि कालेज और पीजी विभाग में मूलभूत सुविधाओं का घोर अभाव है, छात्रों को 6 महीने तक मूल प्रमाण पत्र लेने के लिए दौरना पड़ता है। साथ ही कहा कि परीक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार होता है, दिक्षांत समारोह के नाम पर छात्रों से लिए गए पैसे की वापसी अभी तक नहीं की गई। प्रदर्शन में शामिल एबीवीपी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य आशुतोष सिंह तोमर और कुणाल पांडे ने कहा कि विश्वविद्यालय अतिथि आवास को विवाह भवन बनाकर पैसे की उगाही की जा रही है, और कारवाई के नाम पर सिर्फ जांच समिति बना दी जाती है।

छात्र नेताओं ने टीएमबीयू के अधिकारियों पर आरोप लगाया कि विश्वविद्यालय की जमीन को कुछ अधिकारी भू-माफिया से मिलकर बेचने का प्रयास कर रहे हैं। प्रदर्शन के दौरान एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने विश्वविद्यालय में कापी खरीद बिक्री, क़िताब खरीद, रूसा फंड, पुरानी गाड़ी खरीद, भैरवा तालाब टेंडर, छात्र संघ के पैसे, शिक्षक नियुक्ति और तबादला, निर्माण कार्य, बीएड और डिग्री कालेज की मान्यता में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार होने की बात कही। साथ ही वित्तीय अनियमितता की जांच विजिलेंस टीम से कराने की मांग की।

रोहित राज ने कहा कि बार बार प्रभारी और उत्तर प्रदेश के कुलपति की नियुक्ति से स्पष्ट हो चुका है कि भ्रष्टाचार का खेल राजभवन से चल रहा है। छात्र नेताओं ने चेतावनी दी कि मांग पूरी नहीं होने पर राजभवन और सरकार के खिलाफ उग्र आंदोलन किया जाएगा। इस दौरान अभाविप के कार्यकर्ताओं ने DSW प्रो. रामप्रवेश सिंह को कुलपति के नाम 36 सुत्री मांग पत्र भी सौंपा। मौके पर जिला संयोजक पंकज यादव, छात्रसंघ महासचिव अंकुश राज, बांका के जिला संयोजक नितीश प्रशांत, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रोहित राज सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments