Home बिहार पैन इंडिया के बाद बुडको ने बिगाड़ी शहर की सूरत, रोज लग...

पैन इंडिया के बाद बुडको ने बिगाड़ी शहर की सूरत, रोज लग रहा जाम, राहगीर परेशान…

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : पैन इंडिया के अधूरे कार्य को पूरा करने में बुडको ने कोई कसर नहीं छोड़ी है। दरअसल भागलपुर के शहरी इलाकों में पाइप लाइन बिछाने का कार्य बिहार राज्य की कंपनी बुडको कर रही है, जिसे एशियन डेवलपमेंट बैंक द्वारा फंडिंग दी जा रही है।

वहीं एजेंसी की ओर से पाइप बिछाने के लिए स्मार्ट सिटी भागलपुर में जगह-जगह गड्ढे खोद दिए गए हैं और काम खत्म होने के बाद मलबे को उसी स्थान पर छोड़ दिया जा रहा है। जिस कारण आए दिन सड़क पर गाड़ियों की लंबी कतारें देखने को मिलती है। साथ ही ट्रैफिक कंट्रोल करने में पुलिस के पसीने भी छूट रहे हैं। वहीं बाइक सवार और पैदल चलने वाले लोगों की मुश्किलें काफी बढ़ गई है। शहर के नया बाजार चौक, नगर निगम गोदाम, सराय चौक, गुढ़हट्टा चौक, कोयला घाट समेत कई जगहों पर सड़क को काटकर मलबे को उसी स्थान पर छोड़ दिया गया है।

स्मार्ट सिटी भागलपुर में जगह-जगह गड्ढे

जिस कारण राहगीरों को जाम की समस्या से झूझना पड़ता है। सराय चौक से तिलका मांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के बीच ऐसी स्थिति उत्पन्न हो गई है की, यहां ऑटो, टोटो, ठेला, कार, बाईक और साईकिल चालकों के साथ पैदल चलने वालों को भी कीचड़ और धूल से होकर गुजरना पड़ रहा है। कुल मिलाकर पूरे शहर की स्थिति बुडको द्वारा किए जा रहे कार्य की वजह से नारकीय बन गई है। गौरतलब हो कि पिछले दिनों भागलपुर के जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने कहा था कि बरसात के दिनों में मेन रोड पर कार्य नहीं किया जाएगा। इसके बावजूद सड़क को काटने का कार्य जारी है।

इधर भागलपुर के सूचनाधिकार कार्यकर्ता अजीत कुमार सिंह ने उप मुख्यमंत्री सह नगर विकास एवं आवास विभाग मंत्री को पत्र भेज कर बुडको द्वारा मनमाने ढंग से किए जा रहे कार्यों की शिकायत की है। उप मुख्यमंत्री को दिए गए पत्र में अजीत सिंह ने कहा है कि बुडको नगर विकास विभाग के आदेश की अवहेलना करते हुए मनमाने तरीके से भागलपुर की सड़क को काट रहा है। जिससे आम लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है। उन्होंने बताया कि बुडको नगर निगम क्षेत्र में पेयजल का पाइप बिछाने के लिए चारों ओर सड़कों को काटकर कार्य कर रही है, जबकि इसको लेकर बिहार सरकार के प्रधान सचिव ने 10 अक्टूबर, वर्ष 2017 को जो पत्र जारी किया है उसमें सीवरेज, ड्रेनेज और जलापूर्ति योजना अंतर्गत किसी भी सड़क पर 250 मीटर से आगे कार्य करने के पूर्व क्षतिग्रस्त सड़क का पूर्ण रेस्टोरेशन कराने के उपरांत ही आगे कार्य शुरु करने का निर्देश है।

 जिसके आलोक में भागलपुर समाहरणालय से भी 25 नवंबर 2017 को पत्र निकाला गया है। इसके बाबजूद बुडको के अधिकारी मनमाने ढंग से शहर की सड़कों को काट रहे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments