Home अपराध नवगछिया में L.I.C एजेंट के पुत्र ने गले मे फाँसी का फंदा...

नवगछिया में L.I.C एजेंट के पुत्र ने गले मे फाँसी का फंदा डालकर की आत्महत्या, इलाके में फैली सनसनी

अंजनी कुमार कश्यप

सिल्क टीवी /नवगछिया : पुलिस जिला नवगछिया अनुमंडल अंतर्गत राजेन्द्र कॉलोनी में एल.आई.सी एजेंट सह निजी कोचिंग संचालक शिक्षक हेमंत कुमार झा के लगभग 22 वर्षीय पुत्र ऋषिकेश कुमार झा ने गुरूवार की देर रात्रि सीलिंग पंखा के सहारे गले मे फाँसी का फंदा डालकर आत्महत्या कर ली. परिजनों को आत्महत्या की घटना का उस वक़्त पता चला-जब शुक्रवार की सुबह 7 बजे मृतक ऋषिकेश कुमार झा की माँ माधुरी देवी प्रतिदिन की तरह अपने पुत्र को जगाने के लिए गयी तो, अंदर से दरवाजा बंद था, जिसके बाद उन्होंने अपने पुत्र को कॉल की, जहाँ मोबाइल स्विच ऑफ बताया. परिजनों के काफी कोशिश के बाद दरवाज़ा को खोला तो. उन्होंने देखा कि- उसकेपुत्र ऋषिकेश कुमार झा ने गले मे फाँसी का फंदा डालकर, आत्महत्या कर लिया है. जिसके तत्पश्चात परिजनों ने नवगछिया पुलिस को इसकी सूचना दी. सूचना प्राप्त होने के बाद नवगछिया पुलिस घटना स्थल पर पहुँची, जहाँ पुलिस ने शव को अपने कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए अनुमंडलीय अस्पताल नवगछिया भेज दिया. मृतक के रूम में लैपटॉप खुला हुआ था, जबकि मोबाइल स्विच ऑफ था. इस घटना के बाद मृतक ऋषिकेश कुमार झा के घर मे मातमी सन्नटा पसरा हुआ है और परिजनों का रो-रो बुरा हाल है. मृतक के दादी के आँखों से आँसू नहीं रुक रही थी. घटना के बाद राजेन्द्र कॉलोनी में कई तरह की चर्चाएँ हो रही थी-किसी का कहना था-युवक ऋषिकेश कुमार झा प्रेम-प्रसंग में आत्महत्या की है, तो कई लोगो ने कहा कि-इसकी दोस्ती गलत लड़को से थी। हालांकि मृतक के पिता हेमंत झा ने कहा कि प्रेम-प्रसंग और गलत लड़के के साथ उसकी दोस्ती थी या नहीं, यह जांच का विषय है।

कहते है मृतक के पिता

मृतक के पिता हेमंत झा ने कहा कि-ऋषिकेश कुमार झा गाजियाबाद में आईटीआई में एडमिशन करवाया था साथ ही प्रतियोगी परीक्षाओं का भी तैयारी करता था. लॉक-डाउन लगने की वजह से पुत्र घर आ गया था, परिवार के सभी सदस्य खुशहाली पूर्वक जीवन व्यतीत कर रहे थे, गुरुवार की देर शाम हम लोगो ने प्रेम-पूर्वक खाना खाया था.मध्य-रात्रि करीब 1 बजे, वह पानी पीने के लिए नीचे आया, और फ्रीज़ से ठंडा पानी पीकर सोने के लिए चले गया. शुक्रवार की सुबह 7 बजे मृतक ऋषिकेश कुमार झा की माँ माधुरी देवी प्रतिदिन की तरह अपने पुत्र को जगाने के लिए गयी तो, अंदर से दरवाजा बंद था, जिसके बाद उन्होंने अपने पुत्र को कॉल की, तो मोबाइल स्विच ऑफ बताया. परिजनों के काफी कोशिश के बाद दरवाज़ा को खोला तो. उन्होंने देखा कि- उनके पुत्र ऋषिकेश कुमार झा ने गले मे फाँसी का फंदा डालकर, आत्महत्या कर लिया है.इस अप्रिय घटना के बाद हम लोग गहरे सदमे है.

कहते है नवगछिया थानाध्यक्ष।

नवगछिया थानाध्यक्ष भरत भूषण ने बताया कि-मृतक के पिता के बयान पर यूडी केस दर्ज कर लिया गया है. परिजनों द्वारा बयान दिया गया है कि-नौकरी नहीं लगने की वजह से युवक मानसिक तनाव में आ गया था, जिस वजह से उन्होंने खुदकुशी कर ली. पुलिस पर मामले की छानबीन में जुट गई है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments