Home अपराध नवगछिया में अपराध का नया अंदाज: जिंदा गोली के साथ बच्चे से...

नवगछिया में अपराध का नया अंदाज: जिंदा गोली के साथ बच्चे से भेजवाया 10 लाख की रंगदारी का पत्र……

रिपोर्ट – अंजनी कुमार कश्यप 

सिल्क टीवी/नवगछिया (बिहार) : बिहार के पुलिस जिला नवगछिया अंतर्गत नवगछिया बाजार स्थित एक मोबाइल सर्विस सेंटर के संचालक धीरज शर्मा से अपराधियों ने सोमवार 20 सितंबर को एक नए अंदाज के साथ एक जिंदा कारतूस और एक पत्र को लिफाफे में भेज कर ₹10 लाख रंगदारी की मांग की है, अन्यथा बुरा अंजाम होने की चेतावनी दी है, जिसमें सबसे पहले अपने पिता को खोने की बात कही है।

अपराधियों द्वारा भेजे गए पत्र और जिंदा कारतूस को धीरज शर्मा ने गोपालपुर थाना की पुलिस के हवाले कर दिया है। इस घटना को लेकर मोबाइल सर्विस सेंटर के संचालक धीरज शर्मा ने गोपालपुर थाने में आवेदन देकर प्राथमिकी भी दर्ज करायी है। वहीं मामला सज्ञान में आते ही गोपालपुर के थानाध्यक्ष नीरज कुमार ने छानबीन शुरू भी कर दी है। इस मामले में धीरज शर्मा ने बताया कि दोपहर बाद 3 बजे जब वह अपनी दुकान पर थे तो उसके पड़ोस के ही दो नाबालिग लड़के उसके घर आये और उसके भाई को पीले रंग का एक लिफाफा दिया। जब वह अपने घर गये तो उसने लिफाफा खोला और लिफाफे में एक जिदा कारतूस (गोली) और एक पत्र था।

जब दोनों नाबालिग लड़के से पूछताछ की, तो दोनों ने बताया कि एक 25 वर्ष का युवक जो लाल रंग का टी-शर्ट और जींस पहना था, उसने गाव आकर पहले धीरज शर्मा के बारे में पूछताछ की और उसका घर देखा, इसके बाद उस युवक ने दोनों नाबालिग लड़के को एक लिफाफा दिया और बोला कि इसे धीरज शर्मा के घर पहुंचा दो। धीरज ने यह भी बताया कि गोली को एक कागज में लिपटा हुआ था। कुछ दिन पहले कहलगांव के मधोटोला बनलत्ती निवासी विनय शर्मा से विवाद हुआ था। उसने भागलपुर के 10-15 लड़कों के साथ मेरे पास आकर धमकाते हुए कहा था कि दुकान में तुमको मरवा देंगे। अभी वर्तमान में विनय शर्मा सिंधिया मकंदपुर में ही रहता हैं। पत्र में क्या लिखा था


डियर धीरज जी, आपसे नम्र निवेदन है कि मेरा पैसा जल्द से जल्द वापस कर दें, जो आपने हम से लिए थे। मेरा टोटल बैलेंस 10 लाख अगर वापस नहीं किया, तो किसी भी समय हम आपके परिवार के साथ कुछ भी कर सकते हैं। अगर आप अपने परिवार और खुद का भला चाहते हैं। अगर आपने कोई चालाकी, होशियारी की तो आपके साथ बहुत बुरा होगा। हमें मेरा पैसा चाहिए आपके पास 10 दिन समय है। जल्दी हां, नहीं में एसएमएस करें। फस्ट एड लास्ट वार्निंग, सबसे पहले आप अपने पिताजी को खो देंगे। मुझे जल्दी से जवाब दो पैसा कब और कहां दीजियेगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments