Home अपराध नवगछिया पुलिस का दामन एक बार फिर हुआ दागदार, गोपालपुर थानाध्यक्ष पर...

नवगछिया पुलिस का दामन एक बार फिर हुआ दागदार, गोपालपुर थानाध्यक्ष पर लगा थाने में निर्दोष युवक की पिटाई का आरोप

अंजनी कुमार कश्यप नवगछिया

भागलपुर : नवगछिया के गोपालपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत करारी टीनटंगा निवासी सूरज कुमार ने गोपालपुर के थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर भारत भूषण के खिलाफ कई गंभीर आरोप लगाया है. सूरज कुमार ने कहा कि थानाध्यक्ष भारत भूषण ने जबरन थाना ले जाकर मारपीट की जिसकी शिकायत दर्ज कराने जब वह नवगछिया स्थित एससीएसटी थाना पहुंचा तो थाने में उसे कोई नहीं मिला, जिसके कारण उसे वापस लौटना पड़ा. बता दें कि पीड़ित युवक के पीठ और शरीर के कई हिस्सों पर बुरी तरह पिटाई के निशान भी स्पष्ट दिखाई दे रहा हैं. वहीं युवक ने कहा कि 23 मई की देर रात्रि उसके मोहल्ले के चौकीदार वासुदेव पासवान ने उसके घर के पास आकर उसे आवाज दी, जिसपर वो जब घर से बाहर निकला तो वहां पर पहले से गोपालपुर थानाध्यक्ष मौजूद थे और उसे अपनी गाड़ी में बिठाकर थाना ले गए. पीड़ित की माने तो थाना पहुंचते ही थानाध्यक्ष ने लाठी डंडे और लात घूसों के साथ पिस्टल के बट से उसकी पिटाई करने लगे, और कुछ भी बोलने पर हमेशा के लिए आवाज बंद कर देने की धमकी भी दी. सूरज का आरोप है कि थानाध्यक्ष ने उससे पंचायत में जब्त की गई शराब की गाड़ी के मालिक से एक लाख रुपया दिलाने को कहा. और रात भर उसे थाने पर ही रखा गया। हम आपको बता दें कि पुलिस जिला नवगछिया में यह पहली घटना नहीं है जब किसी थानाध्यक्ष या पुलिस अधिकारी द्वारा किसी निर्दोष को बुरी तरह से पीटा गया हो, इसके पूर्व भी बिहपुर थानाध्यक्ष द्वारा इंजीनियर आशुतोष कुमार पाठक, और झंडापुर ओपी में विभूति कुमार नामक युवक की मौत पुलिस की पिटाई से हो गई थी। वहीं सुबह जब मामले की जानकारी पंचायत के मुखिया सरपंच और समाज के अन्य लोगों को मिली तो वे लोग थाने पर आए और सूरज को छुड़ा कर ले गए. सूरज का कहना है कि इस घटना के बाद से वह बहुत डरा हुआ है, और काफी अपमानित भी महसूस कर रहा है. वह ना तो शराब के बारे में जानता है और ना ही ना ही गाड़ी के मालिक को पहचानता है. साथ ही कहा कि मेहनत मजदूरी कर वह अपना घर चलाता है, लेकिन इंस्पेक्टर भारत भूषण उसे बेवजह परेशान किया। हालांकि पूरे मामले पर गोपालपुर के थानाध्यक्ष ने सूरज से थाने में पूछताछ करने की बात को स्वीकार किया लेकिन युवक के साथ मारपीट के सवाल पर उन्होंने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया। इधर नवगछिया एससी एसटी थानाध्यक्ष ने कहा कि मामले में उन्हें अबतक कोई आवेदन नहीं मिला है, और अगर आवेदन प्राप्त होगा तो आगे उसपर उचित कार्रवाई की जाएगी। वहीं जब घटना को लेकर नवगछिया एसपी सुशांत कुमार सरोज से बात की गई, तो उन्होंने कहा कि मामले की जाँच की जाएगी और अगर कोई भी दोषी पाया जाएगा तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments