Home खेल तेलंगाना बास्केटबॉल टीम की ओर से खेलते हुए भागलपुर के लाल ने...

तेलंगाना बास्केटबॉल टीम की ओर से खेलते हुए भागलपुर के लाल ने किया कमाल, राष्ट्रीय स्तर पर 4 गोल्ड के अलावा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जीते दो सिल्वर मेडल

रिपोर्ट – रवि शंकर सिन्हा

सिल्क टीवी भागलपुर (बिहार) :भागलपुर बूढ़ानाथ स्थित दिगम्बर सरकार लेन निवासी व्यवसायी नीरज कुमार श्रीवास्तव के पुत्र उत्कर्ष आनंद ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की बास्केटबॉल प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीतकर भागलपुर समेत पूरे बिहार का नाम दुनिया भर में रौशन किया है। दरअसल उत्कर्ष आनंद ने अपना पहला नेशनल गोल्ड मेडल वर्ष 2016 में चेन्नई में आयोजित नेशनल बास्केटबॉल प्रतियोगिता में अंडर 14 ग्रुप में जीता था, जिसके बाद उत्कर्ष का झुकाव इस खेल की ओर बढ़ता गया और स्थानीय स्तर की प्रतियोगिता में खेलते हुए आगे भी इस खेल में अपना करियर बनाने के लिए उत्कर्ष आनंद ने प्रयास और संघर्ष जारी रखा।

वहीं तेलंगाना स्टेट अंडर 19 टीम की ओर से खेलते हुए 2021 जुलाई माह में उज्जैन नेशनल बास्केटबॉल प्रतियोगिता के अलावा फरवरी और सितंबर माह में गोवा में आयोजित नेशनल बास्केटबॉल प्रतियोगिता में भी उत्कर्ष ने गोल्ड मेडल पर कब्जा कर अपनी योग्यता को एक बार फिर से साबित किया। जबकि इसी वर्ष मार्च और अगस्त माह में नेपाल में आयोजित हुए इंटरनेशनल बास्केटबॉल टूर्नामेंट में हिस्सा लेकर उत्कर्ष आनंद ने सिल्वर मेडल जीतकर देश का नाम अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ऊंचा किया। बता दें कि उत्कर्ष आनंद वर्ष 2018 से तेलंगाना टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए अपने को कोच और कप्तान के भरोसे को साकार किया और मेडल जीतकर ना सिर्फ अपनी टीम और मार्गदर्शकों का बल्कि भागलपुर के लाल ने बिहार का भी गौरव बढ़ाया है।

फिलहाल उत्कर्ष आनंद बैंगलोर प्रेसिडेंशियल यूनिवर्सिटी से कंप्यूटर साइंस में बीटेक कर रहे हैं, जबकि इसके पूर्व +2 की पढ़ाई हैदराबाद से और दसवीं की पढ़ाई श्रीप्रकाश सिनर्जी स्कूल विशाखापत्तनम से पूरी की। वहीं अपनी सफलता को लेकर उत्कर्ष ने कोच मधु सर और कप्तान ऋतिक राज के साथ अपने अभिभावकों को भी श्रेय दिया। वहीं उत्कर्ष की सफलता और बास्केटबॉल में करियर बनाने के निर्णय का समर्थन करते हुए उत्कर्ष के चाचा दीपक श्रीवास्तव ने कहा कि लगातार नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर पदक जीतकर उत्कर्ष ने अपनी योग्यता साबित की है, और परिवार के सभी सदस्य उसकी उपलब्धि और चयन से काफी गौरवान्वित हैं।

वहीं उत्कर्ष आनंद ने कहा कि वे पहले क्रिकेट खेलते थे लेकिन उनकी रूचि बास्केटबॉल में हुई और 2016 में उन्होंने नौवीं कक्षा में ही अपना पहला नेशनल गोल्ड मेडल जीता था। उन्होंने कहा कि इंडियन गेम्स स्पोर्ट्स फेडरेशन और इंटरनेशनल बास्केटबॉल प्रतियोगिता में मिली सफलता के बाद वे इस फील्ड में ही अपना करियर बनाएंगे, जिसके लिए इंडियन बास्केटबॉल फेडरेशन और तेलंगाना टीम के अधिकारियों का भी काफी सहयोग मिल रहा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments