Home अपराध तीन दिन पहले लापता हुई नवविवाहिता का कोसी नदी से शव बरामद....

तीन दिन पहले लापता हुई नवविवाहिता का कोसी नदी से शव बरामद….

अंजनी ओम कश्यप 

नवगछिया/भागलपुर नवगछिया – पिछले गुरुवार की दोपहर बाद से ही रंगरा थाना क्षेत्र के कौसकीपुर सहौरा निवासी अशोक यादव उर्फ लड्डू यादव की 21 वर्षीय पुत्री डोली कुमारी का शव रंगरा  पुलिस ने कुरसेला पुल के समीप कोशी नदी से बरामद किया है.  शव बरामद करने के बाद रंगरा पुलिस द्वारा अपने कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए नवगछिया अनुमंडल अस्पताल भेज दिया गया. इसके बाद मृतका डोली के परिजनों के द्वारा इसकी सूचना उनके ससुराल पक्ष के लोगों को भी दी गई. सूचना मिलते ही पति सहित ससुराल पक्ष के अन्य लोग नवगछिया अनुमंडलीय अस्पताल पहुंचे. पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया गया है. घटना के बाद मृतका के घर में कोहराम मच गया है. परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है. गांव के लोग परिजनों को संभालने में लगे हुए हैं. इस बाबत रंगरा थानाध्यक्ष महताब खान ने बताया कि स्थानीय लोगों द्वारा कुरसेला पुल के समीप कोसी नदी के किनारे एक लड़की की लाश होने की सूचना दी गई. सूचना मिलने के साथ ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और लाश को कब्जे में ले लिया गया. शव की पहचान मृतका के पिता थाना क्षेत्र के सहौरा निवासी अशोक यादव के द्वारा अपनी 21 वर्षीय पुत्री डाॅली कुमारी के रूप में की गई है. 2 दिन पूर्व मृतका के पिता के द्वारा थाने में अपने पुत्री की लापता होने की सूचना दी गई थी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारणों का स्पष्ट रूप से  पता चल पाएगा.

-1 माह पूर्व 27 अप्रैल को उठी थी डॉली की डोली, शादी के ठीक एक माह बाद 29 मई को उठी अर्थी

-मृतका डाॅली के पिता अशोक यादव उर्फ लड्डू यादव ने पुलिस को बताया कि पिछले 27 अप्रैल को डॉली की शादी बांका जिले के बेलहर थाना क्षेत्र के बेलहर निवासी रोहित कुमार के साथ हुई थी. शादी के कुछ दिनों के बाद डॉली को विदा करा कर सहौरा लाया गया था. शादी के बाद अपने मायके सहौरा आने के बाद डाॅली काफी खुश नजर आ रही थी. पिछले 27 मई गुरुवार की दोपहर को डोली स्नान करने के लिए घर के समीप के कोसी नदी के किनारे गई थी. इसके बाद से ही वह लापता हो गई. हम लोगों के द्वारा आसपास के गांवों में काफी खोजबीन किया गया मगर पता नहीं चल पाया. थक हार कर मैंने इसकी सूचना रंगरा थाने में दी. शनिवार को दिन के 10 बजे के करीब रंगरा  पुलिस द्वारा उन्हें सूचना दी गई कि कुरसेला पुल के समीप एक लड़की का शव बरामद किया गया है. सूचना पर जब हम लोग पहुंचे तो देखा कि बरामद किया गया शव मेरी पुत्री डॉली का ही है. इतना कहते ही पिता अशोक यादव फफक पड़ते हैं और कहते हैं कि मेहनत मजदूरी कर बड़े  अरमानों के साथ धूमधाम से अपनी बड़ी लड़की डॉली की शादी की थी. हे भगवान आखिर मुझसे कौन सी गलती हो गई जो मुझे इतनी बड़ी सजा दी गई है. अभी तो मेरी बेटी की हाथों की मेहंदी के रंग भी नहीं छूटी थी इसी बीच उनकी मौत हो गई. पोस्टमार्टम के बाद शव का दाह संस्कार कर दिया गया. शव को मुखाग्नि पति रोहित कुमार ने दी.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments