Home अपराध तालिबान की क्रूरता का भारत में विरोध, यूनाइटेड नेशन की चुप्पी पर...

तालिबान की क्रूरता का भारत में विरोध, यूनाइटेड नेशन की चुप्पी पर उठने लगे सवाल….

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे से दुनिया में बहस जारी है। ये बहस तालिबान सरकार को मान्यता देने को लेकर है। चीन, ईरान और पाकिस्तान जैसे कई देशों ने तालीबान को मान्यता देने की बात कही है।

रूस ने कहा है कि यह तालिबान के आचरण पर निर्भर करता है कि उसे मान्यता दी जाए या नहीं। वहीं भारत का अब तक कोई साफ़ स्टैंड सामने नहीं आया है। इधर तालिबान की क्रूरता और यूनाइटेड नेशन की चुप्पी का विरोध हिन्दुस्तान में शुरु हो गया है। इसको लेकर रविवार को भागलपुर घंटाघर चौक के समीप जीवन जागृति सोसाइटी के सदस्यों ने तालिबान द्वारा अफगानिस्तान में महिलाओं पर किए जा रहे अत्याचार का प्रतिकार किया।

साथ ही यूनाइटेड नेशन की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए, यूएन शेम शेम के नारे भी लगाए। वहीं जीवन जागृति के अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार सिंह ने कहा कि आतंकी संगठन तालिबान अफगानिस्तान में महिलाओं पर कहर बरपा रहा है लेकिन यूएन समेत विश्वभर के देश इसपर खामोश हैं।

उन्होंने बताया कि अगर यूनाइटेड नेशन समय रहते तालिबानी फरमान और हुकूमत पर लगाम नहीं लगा पाया तो आने वाले दिनों में पूरे विश्व में आतंकी संगठन का कब्जा हो जाएगा। साथ ही उन्होंने भारत समेत सभी देश से तालिबान सरकार को मान्यता नहीं देने की अपील भी की।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments