Home बिहार ट्रेड लाइसेंस घोटाले में निलंबित कर्मी ने नगर आयुक्त को दिया आवेदन,...

ट्रेड लाइसेंस घोटाले में निलंबित कर्मी ने नगर आयुक्त को दिया आवेदन, कहा फसाने की हो रही है साजिश

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : भागलपुर नगर निगम ट्रेड लाइसेस घोटाले में निलंबित हुए एक कर्मी ने जांच पर सवाल खड़े कर दिए हैं। साथ ही झूठा आरोप लागकर फंसाने की बात कही है। जबकि पूर्व शाखा प्रभारी आदित्य जायसवाल ने अपने कार्यकाल की राशि निगम कोष में जमा करा दी है। दरअसल आदित्य जायसवाल को निगम प्रशासन ने एक लाख 33 हजार एक सौ रुपए जमा करने के लिए पत्र दिया गया था। बता दें कि पिछ्ले दिनों ट्रेड लाइसेंस घोटाला की राशि रिकवरी के लिए नगर आयुक्त ने आदेश निकाला था।

आदेश में पूर्व ट्रेड लाइसेंस शाखा प्रभारी सुनील हरि, आदित्य जायसवाल, दिव्या स्मृति, सौरभ सुमन, निरंजन मिश्रा के कार्यकाल की राशि जमा करने का निर्देश दिया गया था। लेकिन कुछ कर्मियों ने अब तक राशि जमा नहीं की है। वहीं सुनील हरि का कहना है कि उनके खिलाफ गबन का आरोप निराधार है। उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल का सभी एमआर रसीद कार्यालय में उपलब्ध है।

सुनील हरि ,कर्मी

सुनील हरि ने बताया कि जिला प्रशासन ने जब जांच की तो नगर निगम की ओर से उनके कार्यकाल का एमआर बुक जांच में प्रस्तुत नहीं किया गया। इस कारण उन्हें गबन का आरोपी बनाया गया। वहीं अपनी सफाई देते हुए सुनील ने साक्ष्य के साथ नगर आयुक्त को आवेदन दिया है। कर्मी ने कहा कि उनपर 8 हजार 5 सौ रुपए गबन का आरोप बिल्कुल गलत है। साथ ही बताया कि अमित कुमार नाम के किसी व्यक्ति का ट्रेड लाइसेंस उन्होंने नहीं बनाया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments