Home बिहार टीएनबी कॉलेज में दो दिवसीय पूर्ववर्ती छात्र सम्मेलन का हुआ समापन, प्राचार्य...

टीएनबी कॉलेज में दो दिवसीय पूर्ववर्ती छात्र सम्मेलन का हुआ समापन, प्राचार्य बोले रांची कॉलेज की तर्ज पर TNB भी बनेगा स्टेट यूनिवर्सिटी..

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : भागलपुर टीएनबी कॉलेज द्वारा आयोजित पूर्ववर्ती छात्र समागम के दूसरे दिन पूर्ववर्ती छात्रों ने अपने अपने अनुभव को साझा किया और आयोजन समिति के सार्थक पहल की प्रशंसा की। वहीं तकनीकी सत्र के अध्यक्षीय भाषण में पूर्व कुलपति डॉ. ए. के. राय ने सभी पूर्ववर्ती छात्रों और शिक्षकों का स्वागत करते हुए अतिथियों की ओर से दिए गए सुझाव को अमल में लाने की बात कही।

उन्होंने कहा कि TNB कॉलेज का छात्र होने के साथ साथ शिक्षक होना अपने आप में गौरव की बात है। कार्यक्रम में बिहपुर विधान सभा के विधायक, इंजीनियर शैलेंद्र ने बताया की उनके परिवार के कई सदस्य और कई पीढ़ियां इसी महाविद्यालय के छात्र रह चुके हैं। कैसर जानी ने कहा कि यह महाविद्यालय की ही देन है की मैं एक Average student से गुड स्टूडेंट की श्रेणी में आया। अर्थशास्त्र विभाग के शिक्षक और पूर्ववर्ती छात्र डॉ. सुमन कुमार ने अपना अनुभव बताते हुए कहा कि TNB कॉलेज में Admission मिलने के लिए मुझे काफी संघर्ष करना पड़ा था। साथ ही उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय महाविद्यालय परिवार को दिया।

जबकि मनोविज्ञान विभाग के शिक्षक डॉ. राजेश कुमार तिवारी ने अपने अनुभव साझा करते हुए महाविद्यालय के एनसीसी कैडेट के महत्वपूर्ण भूमिका के बारे में बताया। इस दौरान दिल्ली से आए पूर्ववर्ती छात्र प्रसून लतांत ने अपने संबोधन में महाविद्यालय को सुझाव दिया कि कॉलेज के इतिहास को शिलालेख के रूप में अंकित कर देना चाहिए। साथ ही महाविद्यालय के प्रसिद्ध हस्तियों से संबंधित एक संग्रहालय का भी निर्माण करना चाहिए। इस अवसर पर आयोजन समिति के प्रमुख डॉ. संजय कुमार झा ने आगामी तैयारियों पर प्रकाश डाला और अगले समागम की सफलता के लिए शुभकामनाएं दी। सत्र में CCDC डॉ. के. एम. सिंह, डॉ. अनिरुद्ध कुमार, डॉ. रविशंकर चौधरी, डॉ. कौशलेंद्र प्रसाद सिंह, डॉ. अजय झा आदि ने भी अपने अनुभव और बहुमूल्य सुझाव दिए। DEAN ACADEMICS डॉ. अशोक ठाकुर ने कार्यक्रम के सफल संचालन के लिए आयोजन समिति का आभार व्यक्त किया।

समापन समारोह में जय प्रकाश विश्वविद्यालय, छपरा के कुलपति डॉ. फारूक अली ने कहा कि टीएनबी कॉलेज हमेशा से ही संस्कार और मूल्यो का संवर्धन करने, अनुशासित व्यवहार और नीतिगत निर्णयों के लिए जाना जाता रहा है। इधर दो दिवसीय सम्मेलन के अंतिम दिन प्रचार्य डॉ. संजय कुमार चौधरी ने सभी सुझावों को संज्ञान में लेने की बात कही। साथ ही आगामी वर्ष में फरबरी से अप्रैल के बीच पूर्ववर्ती छात्र समागम का आयोजन करने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि TNB कॉलेज को रांची कॉलेज की तर्ज पर स्टेट यूनिवर्सिटी बनाने की कवायद शुरू कर दी गई है और इसको लेकर बिहार विधानसभा अध्यक्ष और शिक्षा मंत्री ने कई दिशा निर्देश भी दिया है। कार्यक्रम का संचालन डॉ. मनोज कुमार ने किया जबकि सत्र की रिपोर्टिंग डॉ. स्वेता पाठक ने की। मौके पर पूर्ववर्ती छात्र सम्मेलन के संयोजक डॉ. रतन मंडल, आयोजन सचिव, महेश राय समेत काफी संख्या में पूर्वर्ती छात्र मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments