Home भागलपुर चीफ ऑफ डिफेन्स स्टाफ जनरल बिपिन रावत की पत्नी समेत हेलीकॉप्टर क्रैश...

चीफ ऑफ डिफेन्स स्टाफ जनरल बिपिन रावत की पत्नी समेत हेलीकॉप्टर क्रैश में हुई मौत, शोक में डूबा देश, सेना के चौपर में सवार 13 की हुई मौत….

रिपोर्ट – रवि शंकर सिन्हा

सिल्क टीवी भागलपुर (बिहार) : तमिलनाडु के नीलगिरी जिले के कुन्नूर से हेलिकॉप्टर क्रैश की बड़ी खबर सामने आई है। जिसमें सेना के कई अधिकारी और क्रू मेंबर्स की मौत गयी। दरअसल हादसे का शिकार हुए सेना के विमान बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया, और उसमे सवार 14 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए, जिसमें से 13 लोगों के मौत होने की सूचना है।

तमिलनाडु के नीलगिरि कुन्नूर में हुए हादसे में ध्वस्त हेलिकॉप्टर के मलबे की तस्वीर

बताया जा रहा है कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत उनकी पत्नी समेत सेना के विमान में सवार थे, जिसमें CDS और उनकी पत्नी समेत 13 की मौत हो गयी। जानकारी के अनुसार अभी तक 13 शव बरामद हो चुके हैं। वहीं घटना के बाद तुरंत वायुसेना ने हादसे की जांच के आदेश दे दिए हैं।

रक्षा प्रमुख जनरल बिपिन रावत

देश के रक्षा प्रमुख जनरल बिपिन रावत की एमआई सीरीज के हेलिकॉप्टर क्रैश में मौत के खबर की आधिकारिक पुष्टि देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बयान देकर की। बता दें कि रक्षा प्रमुख इस हेलीकॉप्टर में अपनी पत्नी मधुलिका रावत समेत अन्य 14 लोग के साथ सवार थे, जो कोयम्बटूर के पास सुलुर में भारतीय वायु सेना के अड्डे से कुन्नूर के वेलिंगटन जा रहे थे।

पत्नी संग (CDS) रक्षा प्रमुख जनरल बिपिन रावत

हेलीकॉप्टर में एक ब्रिगेडियर रैंक की अधिकारी, अन्य अधिकारी, रक्षा सहायक, सुरक्षा कमांडो, वायु सेना के 2 पायलट और क्रू मेंबर्स भी मौजूद थे। शुरुआती जानकारी के अनुसार घटना का कारण खराब मौसम और तकनीकी गड़बड़ी बताया जा रहा है, और हादसे से पहले विमान से संपर्क टूट गया था। जबकि जांच के बाद इसकी पुष्टि हो सकेगी। हालांकि अभी यह जांच का विषय हैं।

MI 17 हेलिकॉप्टर हादसे के बाद रेस्क्यू में जुटे सेना के जवान

वहीं CDS और सेना अधिकारियों के साथ अन्य लोगों की हुई मौत की घटना के बाद पूरे देश में शोक का माहौल हैं। बहरहाल सेना प्रमुख एमएम नरवणे पूरे मामले पर अपनी नजर बनाए हुए हैं। हेलिकॉप्टर हादसे में एकमात्र  सवार गंभीर रूप से घायल ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह का इलाज फिलहाल वेलिंगटन स्थित सेना के हॉस्पिटल में चल रहा है।

वायु सेना के MI 17 हेलिकॉप्टर हादसे की तस्वीर

जनरल बिपिन रावत का जन्म 16 मार्च 1958 में उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में हुआ था, जबकि नीलगिरि के कुन्नूर में हुए हादसे के साथ देश ने मजबूत इरादों वाले सशक्त और एक सच्चा सपूत खो दिया। वहीं इस हादसे पर दुख जताते हुए राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, लोकसभा अध्यक्ष, प्रधानमंत्री, गृह मंत्री, रक्षा मंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार समेत देश भर से शोक संवेदना जताने का सिलसिला जारी है।   

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments