Home भागलपुर कैंसर पीड़ित पत्नी के इलाज में आड़े आ रही गरीबी की मार,...

कैंसर पीड़ित पत्नी के इलाज में आड़े आ रही गरीबी की मार, दिहाड़ी मजदूर पति के सामने पत्नी की जान बचाने की चुनौती…

रिपोर्ट –  सुमित कुमार शर्मा  

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) :मधुसूदनपुर थाना क्षेत्र के नूरपुर सोसायटी काली मंदिर स्थित रहने वाले एक अत्यंत गरीब परिवार पर इन दिनों मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा है। इस परिवार में एकमात्र कमाऊ सदस्य विक्की शर्मा दिहाड़ी मजदूरी कर किसी तरह परिवार का भरण-पोषण कर पाता हैं। पर , विक्की पर आफत तब बरसी, जब उसकी पत्नी के शरीर में हुए एक गांठ ने परेशांन करना शुरू कर दिया ।

भागलपुर में ही एक चिकित्सक द्वारा गांठ के ऑपेरशन कराने की सलाह दी गई। इस पर दिहाड़ी मजदूर विक्की ने पत्नी के जेवर बेच कर सगे-संबंधियों से कर्ज लेकर पत्नी की गांठ का ऑपरेशन करवाया। लेकिन, ऑपेरशन के बाद बाहर निकाले गए गांठ की बायोप्सी रिपोर्ट आई, तो पत्नी को कैंसर की पुष्टि हो गई। इसके बाद विक्की ने परिवार व स्थानीय लोगों से आर्थिक मदद लेकर असहनीय पीड़ा से परेशान अपनी पत्नी को इलाज के लिए पटना के भगवान महावीर कैंसर संस्थान में भर्ती कराया । वहां, डॉक्टर ने जांच के बाद कीमोथेरेपी कराने की परामर्श दी। डॉक्टर द्वारा बिक्की को बताया गया कि पांच बार किमोथेरेपी कराने के बाद ही आगे का इलाज शुरू किया जा सकेगा। कीमोथेरैपी और इलाज में लाखों खर्च आने की बात बताई गई है।

ऐसे में सिर्फ दवा लेकर बैरन वापस लौटे दंपत्ति अपने हाल पर बिलखने को विवश हैं। दिनों दिन अपनी पत्नी की बढ़ती पीड़ा को देख पति विक्की शर्मा अपनी बेबसी और गरीबी पर आंसू बहाने को मजबूर है। पत्नी का इलाज और उसकी जान बचाने के लिए वह दर-दर लोगों के सामने हाथ फैला रहा है। लेकिन, यह सब नाकाफी है। उसे तो अब सिर आर्थिक मदद करने वाले मसीहा का इंतजार है, ताकि उसके छोटे-छोटे चार बच्चों के सिर पर मां की ममता का आंचल हमेशा बना रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments