Home कृषि कमिश्नर के निर्देश पर डी.ए.ओ ने किया फसल इनपुट में व्यपाक धांधली...

कमिश्नर के निर्देश पर डी.ए.ओ ने किया फसल इनपुट में व्यपाक धांधली की जांच….

रिपोर्ट-बालकृष्ण कुमार 

सिल्क टीवी/कहलगांव(बिहार) : भागलपुर कमिश्नर के निर्देश पर जिला कृषि पदाधिकारी के के झा द्वारा क्षेत्र के फाजिलपुर सकरामा पंचायत के किसान कोडिनेटर निर्भय कुमार द्वारा रबी फसल क्षतिपूर्ति एवं अन्य योजनाओं में व्यापक धांधली की जांच की , जांच के दौरान पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि अनुज झा से पूछ ताछ की जिसमे कोडिनेटर की व्यापक लापरवाही को बताते हुए कहा कि पंचायत में जमीनी किसानों को आज तक लाभ नही मिला है क्षेत्र में विचोलिया द्वारा ऐसे किसान ,जिसको की जमीन नही है उसको कमिशन के खेल पर इनपुट का लाभ दे रहा है वही जांच के क्रम में ऊपर रामासी गांव के किसान बिरेन्द्र मंडल से पूछताछ की जिसमे कोडिनेटर के कार्यो से असंतोष जाहिर करते हुए कहा कि कृषि संबंधित कोई भी कार्य बिना कमीशन के बदौलत नही होता है हमलोग जनमिन किसान है आज तक कोई भी योजना का लाभ नही मिला है गलत किसानों के आवेदन को स्वीकृत कर विचोलिया द्वारा किसानों से आधा आधा राशि कमीशन लेकर लाखों रुपये की गोलमाल किया है सही किसान लाभ से वंचित है क्योंकि वह कमीशन सही किसानों देने से असमर्थ है निवर्तमान कोडिनेटर के कार्यो का सहरहना करते हुए कहा कि विभाग से आज तक कोई दिक्कत नही हुआ है लेकिन निर्भय कोडिनेटर जब से आया है तब से पंचायत का सारा कार्य विचोलिया के माध्यम से हो रहा है ,जिससे जनमिन किसान अनुदान की राशि से वंचित है,जांच के दौरान पंचायत में कोडिनेटर निर्भय कुमार इनपुट में व्यापक धांधली करने का मामला सामने आया व्यापक गड़बड़ी देख डी ए ओ ने किसानों के सामने जमकर फटकार लगाया ओर कार्यवाही करने की बात कही ,ओर किसानों के सामने निर्भय कुमार को माफी मांगनी पड़ी और इस तरह की गलती दुवारा नही होगी यह संकल्प लिया तब ग्रामीण शांत हुए, हुआ जांच के क्रम जिला कृषि कार्यालय के कर्मी उमाचरण चौधरी शहित कई लोग मौजूद थे

क्या था मामला :- जानकारी देते हुए लोक शिकायत निवारण के परिवादी आशीष कुमार ने बताया की रवि फसल क्षतिपूर्ति का ऊपर रामासी गांव निवासी संजय प्रसाद सिंह के नाम से हुआ था लेकिन कोडिनेटर बिना जांचे परखे दुर्भावना से ग्रसित होकर आवेदन को रिजेक्ट कर दिया इसकी शिकायत कृषि विभाग पटना से किया गया लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई इसके बाद इस मामले को भागलपुर लोकशिकायत निवारण में दायर कराया कार्यवाही चली उसके बाद जिला कृषि कार्यालय से पत्र प्राप्त हुआ कि सन्हौला प्रखंड क्षेत्र में क्षतिपूर्ति शून्य है जिस कारण लाभ रवि फसल क्षतिपूर्ति ओर सभी किसानों का मिला है, जिला द्वारा गठित जांच टीम द्वारा मेरे अनुपस्थित में स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं अन्य लोगों से मेरे ही खिलाफ यह लिखवा कर ले लिया की रवि फसल क्षतिपूर्ति में संजय प्रसाद सिंह का फसल क्षति नही हुई है गांव में ओर सब किसानों की फसल क्षति हुई है जिसको क्षतिपूर्ति का लाभ मिला है उसके बाद हम द्वतीय अपील में गए इसके बाद कमिश्नर द्वारा संज्ञान लेते हुए जांच कराया गया जिसमें मुद्दे पर बात नही कर अन्य बातों पर चर्चा कर रहे है,उसके बाद विभाग द्वारा भी कई तरह के दवाब मिलने लगा, कोडिनेटर की गलती को हमेशा पदाधिकारी दवाने की कोशिश किया है,लोगो मे चर्चा बना हुआ है माफी मांगने से समस्या का निदान नही होता है उस पर कार्यवाही होनी चाहिए,

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments