बिहारभागलपुर

उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने नवगछिया में 95 करोड़ की लागत से 65 केएलपीडी एथेनॉल उत्पादन क्षमता की एथेनॉल इकाई का किया भूमिपूजन, जनवरी 2023 तक पूरा होगा निर्माण

6500 मैट्रिक टन क्षमता के कोल्ड स्टोरेज का भी किया शुभारंभ, भागलपुर में बांटी 250 बुनियाद रीलिंग मशीन


सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने एक बार फिर भागलपुर वासियों को बड़ी सौगात दी है। शुक्रवार को बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने नवगछिया के साहू परबत्ता में 65 किलो लीटर प्रतिदिन इथेनॉल उत्पादन क्षमता की इथेनॉल उत्पादन इकाई का भूमि पूजन किया। साथ ही उन्होंने 6500 मेट्रिक टन क्षमता का एक कोल्ड स्टोरेज का भी शुभारंभ किया ।

साहू परबत्ता में जिस इथेनॉल उत्पादन इकाई का भूमि पूजन बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने किया है, लक्ष्य है कि वो जनवरी 2023 तक यानी 1 साल में बनकर तैयार हो जाए। इस इथेनॉल इकाई की स्थापना में 95 करोड़ की अनुमानित लागत आएगी जिनमें से बैंक की तरफ से 82 करोड़ के लोन स्वीकृति के दस्तावेज आज ही उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन की मौजूदगी में कंपनी साहू एग्रो को सौंपे गए हैं।

कल देर रात भागलपुर पहुंचे बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने आज सुबह रेशम भवन में आयोजित कार्यक्रम में 250 थाई रीलर्स महिलाओं को बुनियाद रीलिंग मशीनें भी वितरित की।

बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि भागलपुर से मेरा सांस का रिश्ता है जो इस जनम तो नहीं ही टूटेगा, उसके बाद भी मेरे काम के जरिए ये रिश्ता बना रहेगा। उन्होंने कहा कि मैं जब भी भागलपुर आया हूं, खाली हाथ नहीं आया, कुछ लेकर आया ।

उन्होंने कहा कि आज न सिर्फ बुनियाद मशीने वितरित कर भागलपुर के महिलाओं के मान सम्मान की रक्षा व उनकी आमदनी बढ़ाने का इंतजाम किया है बल्कि किसानों की तकदीर तस्वीर सवारने का भी बंदोबस्त कर दिया है।

उन्होंने कहा कि भागलपुर मक्का का कटोरा है और भागलपुर ही नहीं वल्कि पूरे बिहार में जो 17 इथेनॉल इकाई की स्थापना हो रही है उससे
बिहार के किसानों का मक्का डॉलर में तब्दील होगा और किसानों की तकदीर तस्वीर संवरेगी।

उन्होंने कहा कि पिछले भागलपुर आगमन पर भी बिहार स्पन सिल्क मिल के 352 कर्मियों को 25 साल से बकाया वेतन के भुगतान के रूप में 15.60 करोड़ की सौगात दी थी । आज भागलपुर की महिलाओं को बुनियाद रीलिंग मशीनो की सौगात दे रहा हूं।

उन्होंने कहा कि मेरा एक भी दौरा खाली नहीं गया है। पिछले एक साल में भागलपुर को अपने कलम की ताकत से पूरी मदद की है।

उन्होंने कहा कि भागलपुर में 40.10 करोड़ की लागत से बनने वाले सिपेट (CIPET) के वोकेशनल ट्रेनिंग सेंटर को स्वीकृति मिल चुकी है तो भागलपुर में बुनकरों की सुविधा के लिए डिजाइन स्टूडियो तैयार हो चुका है जिसका जल्द उद्घाटन किया जाएगा लेकिन इसके साथ एक करीब 4 करोड़ की लागत के एक नया डायइंग हाउस (Dyeing House) भी यहां शुरू करने का प्रस्ताव आगे बढ़ाया जा चुका है ।

उन्होंने कहा कि इससे पहले भागलपुर और बांका के 722 बुनकरों को दस दस हज़ार की कार्यशील पूंजी दी जा चुकी है। भागलपुर के लोदीपुर में बुनकरों के लिए एक क्लस्टर पहले से ही स्वीकृत हैं। 10 करोड़ की लागत से अन्य कई क्लस्टर भी जल्द शुरू किए जाएंगे जिनमें ज्यादा से ज्यादा बुनकरों को लाभ होगा।

उन्होंने कहा कि भागलपुर में 8 करोड़ की लागत से प्रशिक्षण केंद्र सह छात्रावास भी खुलेगा जिसमें उद्योग से संबंधित ट्रेनिंग दी जाएगी । साथ ही भागलपुर में खादी मॉल भी खोला जाएगा, इसके लिए भी जमीन चिन्हित की जा रही है।

शुक्रवार को एक दिवसीय भागलपुर दौरे में नाथनगर में उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने मुख्यमंत्री अनुसूचित जाति और जनजाति योजना के लाभार्थियों से भी मुलाकात की और उनकी ट्रेनिंग अच्छे से हो, ये सुनिश्चित की।


Silk Tv

Silk TV पर आप बिहार सहित अंगप्रदेश की सभी खबरें सबसे पहले देख सकते हैं !

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button