Home बिहार आयरन कार्टन मॉडल के इस्तेमाल से नवगछिया के बैसी गांव में रुका...

आयरन कार्टन मॉडल के इस्तेमाल से नवगछिया के बैसी गांव में रुका कटाव, ग्रामीणों ने डॉ. अजय का जताया आभार…

रिपोर्ट – सैयद ईनाम उद्दीन

सिल्क टीवी/भागलपुर (बिहार) : कुछ पाने के लिए इंतज़ार करना होगा, हार मिले या जीत बस लक्ष्य के लिए मरना होगा, वक़्त कब बीत जाएगा कोशिश करते-करते, मंजिलों की राहों से लगातार लड़ना होगा। यह पंक्ति भागलपुर के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. अजय कुमार सिंह पर बिल्कुल सटीक बैठती है।

हमेशा अपने सामाजिक कार्यों से चर्चा में रहने वाले जीवन जागृति सोसाइटी के अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार, फिलहाल पुलिस जिला नवगछिया के रंगरा प्रखंड स्थित जहांगीरपुर बैसी गांव के लोगों के लिए किसी फरिश्ते से कम नहीं हैं। दरअसल डॉ. साहब के मॉडल और तकनीक ने पूरे गांव को बाढ़ की चपेट से बचा लिया। ग्रामीण बताते हैं कि इनके एक छोटे से प्रयास से क़रीब 16 सौ परिवार आज चैन की नींद सो पा रहा है।

साथ ही बाढ़ की विभीषिका से होने वाली तबाही से भी पूरा गांव सुरक्षित है। गौरतलब हो इसके पूर्व भी डॉ. अजय वाटर हेलमेट और फायर मॉडल को लेकर देशभर में चर्चा में रह चुके हैं। जबकि बिहार सरकार ने इनके मॉडल को अमल में लाने की कवायद शुरू कर दी है। वहीं रविवार को डॉक्टर अजय अपनी टीम के साथ बैसी गांव पहुंचे, जहां उन्होंने दो माह पूर्व संस्था द्वारा फ्लड फाइटिंग को लेकर किए गए कार्यों की जानकारी ग्रामीणों से ली।

हालांकि प्रशासन की ओर से भी नदी की तेज धार से कटाव को रोकने का प्रयास किया गया था। लेकिन हाथी पांव का इस्तेमाल कारगार नहीं रहा। इसके बाद कटाव रोकने के लिए डॉक्टर अजय ने अपने नए मॉडल का परीक्षण किया जो पूरी तरह सफल रहा। वहीं जीवन जागृति सोसायटी के अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार सिंह ने आयरन कार्टन मॉडल को पानी के बीच उतारा। वर्तमान में नौगछिया के कोशी नदी किनारे चोरहर और बैसी जहाँगीरपुर गांव में तेज धारा के किनारे आयरन कार्टन मॉडल को फ्लड फाइटिंग के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

जिसका बेहतर परिणाम भी दिखने लगा है। डॉक्टर साहब के अथक प्रयास से लोहे के फ्रेम और तांत की चटाई से बस्ती में जो हालात बदले हैं उसका गवाह गांव वाले खुद हैं।ग्रामीण अब्दुल गफ्फार और नियाज़ अख्तर ने बताया कि बाढ़ का पानी जब घर में प्रवेश करने लगा तब हमलोग पलायन करने की तैयारी कर रहे थे। लेकीन इसी बीच डॉ. अजय किसी फरिश्ते की तरह गांव में आए।

इधर फ्लड फाइटिंग के नए तरीके ईजाद कर बैसी पंचायत के लोगों को लाखों का फायदा पहुंचाने वाले जदयू चिकित्सा प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार सिंह ने कहा कि वे इस मॉडल को मुख्यमंत्री नीतिश कुमार के समक्ष रखेंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments