Home Uncategorized कलिंग इंस्टीच्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (के.आई.आई.टी.) ने वर्ष 2020 का ‘दी अवार्ड्स...

कलिंग इंस्टीच्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (के.आई.आई.टी.) ने वर्ष 2020 का ‘दी अवार्ड्स एशिया’ जीता

कलिंग इंस्टीच्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (के.आई.आई.टी.) ने वर्ष 2020 का ‘दी अवार्ड्स एशिया’ जीता

कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी (के.आई.आई.टी.) डीम्ड विश्वविद्यालय ने 17 नवंबर 2020 को टाइम्स हायर एजुकेशन (टी.एच.ई.) द्वारा घोषित ‘द अवार्ड्स एशिया’ जीता है। के.आई.आई.टी., को ‘वर्कप्लेस ऑफ द ईयर’ (वर्ष का कार्यस्थल) वर्ग में विजेता घोषित किया गया है, इस तरह का मान्यता प्राप्त करने वाला यह भारत का एकमात्र संस्थान है। अपने कर्मचारी और छात्रों के लिए, विशेष रूप से शुरुआती प्रगति या तरक्की एवं अपनी उदारतापूर्ण वचनबद्धता के लिए इसे यह पहचान मिली है।

के.आई.आई.टी. को अपने विकेंद्रीकृत शासन के लिए जाना जाता है, जिसमें प्रमुख कर्मचारियों को पर्याप्त स्वायत्तता प्रदान की जाती है और उनके कार्यों को पूरा करने की शक्ति प्रदान की जाती है। यह एकमात्र स्व-वित्तपोषित विश्वविद्यालय है जो परिवारवाद के वर्चस्व से ऊपर है। सभी वरिष्ठ अधिकारी सुप्रसिद्ध शिक्षाविद हैं और उन्हें चुने जाने की प्रक्रिया पारदर्शितापूर्ण है।

कर्मचारी-वर्ग एवं फैकल्टी के सभी सदस्यों ने इसका सारा श्रेय अपने संस्थापक, डॉ अच्युता सामंता को दी है। डॉ. सामंता ने वित्तीय और प्रशासनिक दोनों पहलुओं में स्वतंत्रता के साथ बेझिझक काम करने पर बहुत महत्व दिया है। उन्होंने एक माहौल और कार्यसुधारक-प्रणाली बनाई है जहां फैकल्टी और कर्मचारी उन्मुक्त मन से अपना कार्य कर सकते हैं। परिणामस्वरूप, के.आई.आई.टी. अपनी स्थापना के समय से ही छात्रों, माता-पिता, कर्मचारीवर्ग एवं पर्यावरण के अनुकूल परिसर रहा है।

यह निर्णायकमण्डल कई अनुभवी व्यक्तित्च को लेकर बनाया गया है, जिन्होंने देश के सैकड़ों संस्थानों का मूल्यांकन किया और छात्रों, शिक्षकों, शोधकर्ताओं और स्थानीय समुदायों के बीच गहन सर्वेक्षण करने के उपरांत ही के.आई.आई.टी. को विजेता घोषित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बेगूसराय में उत्पाद विभाग की टीम ने लगभग 20 लाख रुपये की शराब की जब्त, तीन लोगों को किया गिरफ्तार…

उत्पाद निरीक्षक दुर्गेश कुमार ने बताया कि पकड़े गए धंधेबाजों ने जानकारी दी है कि मुजफ्फरपुर से उन्हें शराब की डिलीवरी...

बिना मास्क के वाहन चालकों और यात्रियों पर लगाया गया जुर्माना, प्रदूषण फैलाने वालों वाहनों की भी जांच…

राजधानी पटना  में परिवहन विभाग एवं ट्रैफिक पुलिस द्वारा विभिन्न पोस्ट पर विशेष वाहन जांच अभियान चलाया गया। हेलमेट-सीटबेल्ट के साथ प्रदूषण,...

सुशील कुमार मोदी बोले- भले मैं सरकार में नहीं, लेकिन मेरी आत्मा इसी में बसती है..

बिहार के डिप्टी सीएम रह चुके सुशील कुमार मोदी को इस बार पार्टी राज्यसभा भेज रही है और माना जा रहा...

मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना में भारी अनियमितता, काम पूरा होने के बाद भी ग्रामीणों को नहीं मिल रहा लाभ..

मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के भले ही गया जिले बेहतर बनने की कोशिश में है. लेकिन योजना के तहत किए गए दावे...

Recent Comments